Essay in Hindi on Diwali – दीपावली पर निबंध 500 शब्दों में

Spread the love

दीपावली, प्रकाश का त्योहार, भारत के सबसे महत्वपूर्ण और लोकप्रिय त्योहारों में से एक है। इसे हर साल कार्तिक मास की अमावस्या तिथि को मनाया जाता है। यह त्योहार बुराई पर अच्छाई की जीत, अज्ञानता पर ज्ञान की जीत  का प्रतीक है।

त्योहारों में दीपावली का महत्व

दीपावली का महत्व हमारे जीवन में विशेष होता है। इसे ‘दीपों का त्योहार’ भी कहा जाता है क्योंकि इसे बहुत सारे दीपकों से सजाया जाता है। यह त्योहार आयुर्वेद में भी महत्वपूर्ण माना जाता है क्योंकि दीपावली के दिन आपके घर में सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है।

पर्व मनाने का कारण, समय और अवधि

दीपावली का मुख्य कारण भगवान राम के अयोध्या लौटने के दिन होता है, जब उनके भक्तों ने उनका स्वागत किया था। इसके अलावा, इसे धन्वंतरि जयंती के रूप में भी मनाते हैं, जो आयुर्वेद के पिता माने जाते हैं। दीपावली का समय अक्टूबर से नवम्बर के बीच होता है और यह पांच दिन तक चलता है।

Also Read:   Karwa Chauth kab hai 2023: Vrat Date, Katha, Puja Vidhi, and More - करवा चौथ कब है, कहानी कथा पूजा 2023

दीपावली त्योहार की तैयारी

दीपावली की तैयारी बच्चों से लेकर बड़ों तक सभी के लिए खास होती है। घर को सजाने के लिए हम सभी दीपकों, दिएओं और रंगों का उपयोग करते हैं। घर की सफाई भी बड़ी ध्यान से की जाती है ताकि हमारा घर सुंदर दिखे।

उपसंहार (Conclusion)

दीपावली एक खास त्योहार है जो हमारे जीवन को रोशनी से भर देता है। इसे मनाकर हम अच्छे कर्मों की ओर बढ़ सकते हैं और अपने परिवार और समाज के साथ खुशहाली से जी सकते हैं। इस दीपावली, दीपों को जलाकर हम सभी अच्छे और सकारात्मक दिशा में बढ़ सकते हैं।

Diwali Essay in Hindi 10 Lines – दीपावली पर निबंध 10 लाइन

  1. दीपावली भारत का एक प्रमुख हिन्दू त्योहार है।
  2. यह पांच दिनों तक मनाया जाता है और सबसे बड़ा दिन दिवाली होता है।
  3. इस त्योहार को बुराई को हराने के रूप में मनाया जाता है।
  4. दीपावली के दिन घर को खासी तरह से सजाया जाता है।
  5. दीपकों और दियों का प्रयोग घर को रोशनी से भर देता है।
  6. इसे धन लक्ष्मी की पूजा के साथ भी मनाया जाता है।
  7. बच्चे खुशियों में अपने घर को खुद सजाने में बहुत उत्साहित होते हैं।
  8. खास खाने और मिठाइयों का स्वाद लेने का भी दिन होता है।
  9. दीपावली का त्योहार सामाजिक मेलजोल और खुशियों का अवसर होता है।
  10. इसे अपने प्यारे दोस्तों और परिवार के साथ मनाने का अच्छा मौका होता है।
Also Read:   Kartik Purnima, 12 नवम्बर 2019 कार्तिक पूर्णिमा पर करें ये चमत्कारी उपाय, दूर होंगी भाग्य की बाधाएं

दिवाली 2023: किस दिन मनाया जाएगा दीपावली का त्योहार?

दिवाली हिंदुओं का सबसे बड़ा और सबसे लोकप्रिय त्योहार है। यह हर साल कार्तिक मास की अमावस्या तिथि को मनाया जाता है। इस साल दिवाली 12 नवंबर 2023, रविवार को मनाई जाएगी।

FAQ

Q1: Diwali 2022 date in India (भारत में दीपावली 2022 की तारीख क्या है)? A1: दीपावली 2022 की तारीख 24 अक्टूबर है।

Q2: 5 days of Diwali 2022 (दीपावली के साथ और कौन से त्यौहार मनाए जाते हैं?) A2: दीपावली के पांच दिन होते हैं:

  1. धनतेरस: धन और समृद्धि की पूजा किया जाता है.
  2. नरक चतुर्दशी: नरकासुर के वध की कथा के साथ मनाया जाता है.
  3. दीपावली: मुख्य दिन है, जब दीपकों का प्रयोग किया जाता है.
  4. गोवर्धन पूजा: गिरधर गोवर्धन पर्व के रूप में मनाया जाता है.
  5. भाई दूज: भाई-बहन के प्यार का प्रतीक, भैया दूज के रूप में मनाया जाता है.

Q3: दीपावली पर सबसे ज्यादा महत्व किसका होता है? A3: दीपावली का सबसे ज्यादा महत्व भगवान श्रीराम के अयोध्या लौटने के दिन होता है, जब उनके भक्तों ने उनका स्वागत किया था। इसके अलावा, यह महत्वपूर्ण है क्योंकि इसे धन्वंतरि जयंती के रूप में भी मनाते हैं, जो आयुर्वेद के पिता माने जाते हैं।

Also Read:   आयी साल की सबसे बड़ी देव एकादसी, तुलसी के सामने बोले ये चमत्कारी शब्द, भूल से भी न करें ये 8 काम

इस खास दीपावली को अपने परिवार और दोस्तों के साथ मनाने का समय आ गया है। इस त्योहार के दिन, हम सभी मिलकर खुशियों का उत्सव मनाते हैं और एक-दूसरे के साथ समय बिताते हैं। इसे ध्यान से मनाकर हम अपने जीवन को और भी रोशनी से भर सकते हैं।

दोस्तों, इस दीपावली के अवसर पर, अपने दोस्तों और परिवार से इस निबंध को साझा करना न भूलें। इससे और भी अधिक लोग इस खास त्योहार के महत्व को समझेंगे और मनाएंगे। आपके सभी को दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं!


Spread the love